सल्तनत काल के पद - ज्ञानीभारत.com

सल्तनत काल के पद

0

दोस्तों, मैं पंकज भारत एक बार फिर आपकी अपनी वेबसाइट ज्ञानीभारत.com स्वागत करता हूँ। दोस्तों मैं इस पोस्ट में सल्तनत काल के पद के बारे में बताने जा रहा हूँ। दोस्तों यह पोस्ट आपकी आगामी परिक्षाओं के लिए उपयोगी साबित होगी। इस पोस्ट को खासतौर से मैंने छात्रों के लिए तैयार किया है। जब मैंने 2019 में आईएएस की परिक्षा दी थी तो सल्तनत काल के पद से तीन प्रश्न पूछे गए थे। इन प्रश्नों को भी मैंने इस पोस्ट में दे दिया है। मैं आशा करता हूँ कि आपको यह पोस्ट अच्छी लगेगी। यदि अच्छी लगे तो कमेंट और सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें। आपका एक कमेंट मुझे और ज्यादा लिखने के लिए प्रेरित करेगा।

आप सभी छात्रों से मेरा निवेदन है कि आप मेरी वेबसाइट ज्ञानीभारत.com से अपनी परिक्षाओं की तैयारी करते रहे। मैं आपके लिए रोज एक नई पोस्ट पब्लिश करता रहूंगा। आपको महंगी कोचिंग और किताबों की जरूरत नहीं पड़ेगी। आपको सफलता जरूर मिलेगी।

सल्तनत काल के पद

  • इक्ता धन के स्थान पर वेतन की जगह भूमि देना
  • अमीर ए आखुर  यह शाही घोड़े का प्रभारी होता था।
  • मीरबक्शी मनसबदारों का हिसाब किताब रखने वाला
  • खानकाह यह सूफियों का निवास स्थल था
  • जजिया एक धार्मिक कर जो गैर मुसलमान से लिया जाता था।
  • चराई मवेशी पर लगने वाला एक प्रकार का कर
  • खूत ग्राम प्रधान का संगठन
  • जवाबित राजकीय कानून
  • जागीर राजा द्वारा सरकारी अधिकारी को दी गई भूमि
  • खराज एक भूमि कर था जो गैर मुसलमानों से लिया जाता था
  • जकात यह एक ऐसा कर था जो मुसलमानों को अपनी धन संपति पर देना पड़ता था।
  • मुक्कदम ग्राम प्रधान
  • शहना पुलिस अधिकारी होता था
  • खम्स यह युद्ध में लूटा गया माल था। इस्लामी कानून में इसका 1/5 भाग शाही खजाने में जाता था शेष भाग सैनिकों में बांट दिया जाता था।
  • उश्र मुसलमानों से लिया जाने वाला भूमि कर
  • राय एक हिन्दू सरदार था जिसके पास अपनी सेना और भूमि होती थी
  • जीतल सल्तनत काल में यह तांबा का सिक्का था
  • टंका सल्तनत काल का चांदी का सिक्का
  • कारकुन भूमि कर का हिसाब किताब रखता था।
  • अमीन यह एक सरकारी पद था
  • आरिज सैनिकों की भर्ती करने वाला मुख्य
  • इक्तादार इक्ता प्राप्त करने वाला
  • कोतवाल नगर की सुरक्षा करने वाला पुलिस अधिकारी
  • रय्यत भूमि का किसान
  • मुक्ता राज्यपाल
  • जानदार अंगरक्षक होता था
  • दीवान ए रियासत वाणिज्य मंत्रालय
  • दीवान ए अर्ज  सुरक्षा अधिकारी
  • दीवान ए अमीर कोही कृषि विभाग
  • परगना गांवों का समूह
  • पायजा सुरक्षा पत्र
  • पायल पैदल सैनिक
  • मनसब मुगल काल में पद या रैंक
  • ममलूक एक दास होता था
  • बरीद गुप्तचर अधिकारी होता था
  • मजलिस ए ख़ास सुल्तान की सभा होती थी
  • फौजदार कानून व्यवस्था बनाने वाला अधिकारी
  • वकील शासन व्यवस्था एवं सैनिक व्यवस्था बनाने वाला अधिकारी या सर्वोच्च अधिकारी
  • शर्ब सिंचाई कर
  • वकीलदार राजदरबार से सम्बन्धित महत्वपूर्ण पद
  • शरा इस्लामी कानून
  • शिकदार यह जिले का प्रधान होता था
  • सद्र धार्मिक अनुदान का मुख्य अधिकारी, धार्मिक समूहों को कर मुक्त भूमि का अनुदान देना।
  • दीवान ए खैरात दान और धर्मार्था कार्य सद्र उस सदूर विभाग का अधिकारी
  • आमिल गांवों से भूमि कर वसूलने वाला अधिकारी

अन्य पोस्ट भी पढ़ें

ज्ञानीभारत.com

Please Post Your Comments & Reviews

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: